मंगलवार, 29 सितंबर 2015

हस्तकला

इसे प्रकाशित किया Aatmabal ने तारीख और समय 1:48 pm 2 टिप्पणीयॉं
खुद के व्यक्तित्वका एक अनोखा अविष्कार । आत्मबल क्लास का अविभाज्य हिस्सा है हस्तकला । इन छे महिनों के दौरान, प.पूज्य नंदाई सब सखियोंकी छुपी खुबियोंपे गिरा परदा हलकेसे उठाती है । यह सखिया अपनेही भूले हुए खुदसे मिलकर खूश हो जाती है ।





शुक्रवार, 11 सितंबर 2015

नंदाई को हल्दी कुमकुम के तौर पर लडीयां

इसे प्रकाशित किया Aatmabal ने तारीख और समय 5:30 pm कोई टिप्पणी नही








परमपूज्य सद्‌गुरु श्रीअनिरुध्द  ने जो तेरा कलमी कार्यक्रम घोषित किया है, उसमें से चरखा योजना एक महत्त्वपूर्ण कलम है । प.पूज्य नंदाई आत्मबल क्लास मे यह योजना कार्यान्वित करती है । नंदाई के कहने पर आत्मबल क्लास की सभी सखियां हर शनिवार कम से कम दो लडियां हल्दी कुमकुम के तौर पर नंदाईको अर्पण करती है।