बुधवार, 18 मई 2016

Pratyaksha-Mitra

इसे प्रकाशित किया Aatmabal ने तारीख और समय 4:23 pm कोई टिप्पणी नही



‘दैनिक प्रत्यक्ष’ के कार्यकारी संपादक डॉ. अनिरुद्ध धैर्यधर जोशी की निरपेक्ष मित्रता का अनुभव गत कुछ वर्षों से प्राप्त करते समय, मित्रता का यह हाथ दुनिया भर के सारे इच्छुकों को प्राप्त होना चाहिए, इस भावना में से ‘प्रत्यक्ष-मित्र’ इस वेबसाईट की संकल्पना साकार हुई।
इस वेबसाईट में क्या है? भारतीय संस्कृति के मूल्य, इतिहास, ज्ञान-विज्ञान, मनोरंजन, अध्यात्म, अर्थशास्त्र, पर्यटन इन जैसे अनेक विषयों से संबंधित जानकारी इस वेबसाईट पर उपलब्ध है और होती रहेगी।
‘प्रत्यक्ष-मित्र’ इस वेबसाईट के माध्यम से, भारतभूमि से, यहाँ के पवित्र मूल्यों से प्रेम करने वाले हर एक के लिए मित्रता का एक अनोखा दालान खुल गया है।

ये वेबसाईट देखनेके लिये निचे दिये हुए लिंक पर क्लिक करे।
http://www.newscast-pratyaksha.com/

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें